आप सभी जानते है कि उत्तर प्रदेश जनसंख्या की दृष्टि से भारत का सबसे बड़ा राज्य है और यहां लगभग 10 करोड़ से अधिक जनंसख्या निवास करती है।

बेरोजगारी यहां एक अहम समस्या बनी हुई है। क्योंकि यहां इतने संसाधन उपलब्ध नहीं है कि सभी लोगों को रोजगार उपलब्ध कराया जा सके।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा एक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी एवं राज्य सरकार के अन्य मंत्रियों की उपस्थिती में आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान योजना 2024 को प्रस्तावित किया है।

जिसके तहत प्रदेश में लगभग 1 करोड़ नये रोजगार अवसर उपलब्ध कराये जाएंगे। जिससे लोगों को। रोजगार मिल सकें तथा प्रवासी मजदूरों को भी अपनी जीवन याचिका को चलाने के लिए अन्य किसी प्रदेश में प्रस्थान न करना पड़े।

इस योजना के तहत जो प्रवासी मजदूर अन्य प्रदेश या अन्य शहरों से अपने घर लौटे है उन्हें योगी सरकार द्वारा मनरेगा , एमएसएमई, ओडीओपी, निर्माण परियोजनाओं व ग्राम्य विकास से जुड़े कार्यक्रमों से जोड़कर 1.25 करोड़ लोगों को रोजगार उपलब्ध कराया जायेगा।

इस योजना के अंतर्गत 25 तरह के कार्य क्षेत्रों को चिन्हित किया गया है। जिसमें इस योजना से लाभान्वित हो रहे नागरिकों को रोजगार उपलब्ध कराया जायेगा।

आत्मनिर्भर अभियान रोजगार योजना सर्वप्रथम प्रदेश के 31 जिलों में स्थायी रूप से शुरू किया जायेगा।

आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान योजना से जुडी ज्यादा जानकारी के लिए नीचे क्लिक करे।