सरकार द्वारा किसी व्यक्ति की नौकरी, व्यवसाय अथवा किसी अन्य पेशे से हुई आय पर कराधान इन्कम टैक्स कहलाता है।

सरकार किसी भी व्यक्ति पर टैक्स उसकी आय के अनुसार लगाती है। इसकी विभिन्न श्रेणियां हैं, जिन्हें टैक्स स्लैब कहा जाता है।

जब किसी व्यक्ति को सरकार द्वारा टैक्स भुगतान से राहत प्रदान की जाती है तो उसे टैक्स छूट कहा जाता है।

अधिकांश निवेश योजनाओं पर सरकार द्वारा धारा 80सी के अंतर्गत टैक्स छूट प्रदान की जाती है।

भारत की कुल आबादी 136 करोड़ से भी अधिक है, लेकिन इसमें से केवल लगभग छह प्रतिशत लोग ही इन्कम टैक्स भरते हैं।

भारत की कुल आबादी (total population) 136 करोड़ से भी अधिक है, लेकिन केवल सवा आठ करोड़ ही टैक्स पेयर हैं यानी टैक्स चुकाते हैं।

आपको यह जानकारी भी दे दें कि दोस्तों वित्त वर्ष 2023 में केंद्र सरकार का टैक्स कलेक्शन लगभग 14 लाख करोड़ रुपए था।

टैक्स सेविंग स्कीम क्या है? अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करे?