महाराष्‍ट्र देश का एक ऐसा राज्‍य है, जहां सबसे ज्‍यादा किसान आत्‍महत्‍या करते हैं। जिसका मुख्‍य कारण सूखे को माना जाता है।

महाराष्‍ट्र के कुछ इलाकों में पिछले कई साल से लगातार सूखा पड़ रहा है। पानी की कमी के कारण किसानों की फसल नष्‍ट हो जाती है, जिसके कारण उन्‍हें कर्ज चुकाने तथा अपना परिवार चलाने में बहुत कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है।

राज्‍य के किसानों की इन्‍हीं सब समस्‍याओं को देखते हुये महाराष्‍ट्र सरकार ने नानाजी देशमुख कृषि संजीवनी योजना की शुरूआत की है। यह योजना बहुत विशाल है। जिसके दायरे में सभी किसान व सभी जिलों को शामिल किया जा रहा है।

Maharashtra Nanaji Deshmukh Sanjivani Yojana 2024 के जरिये स्‍टेट गवर्नमेंट सूखा ग्रस्‍त राज्‍य को सूखा मुक्‍त बनाना चाहती है। इसके लिये महाराष्‍ट्र के कृषि विभाग के द्धारा विभिन्‍न प्रकार के Projects बनाये गये हैं।

महाराष्‍ट्र नानाजी देशमुख कृषि संजीवनी योजना विशेष रूप से राज्‍य को सूखे के संकट से उबारने के मकसद से लांच की गयी है। महराष्‍ट्र सरकार ने इस योजना के क्रियान्‍वयन के लिये 4000 करोड़ रूपये का एक प्रस्‍ताव भी पास किया है।

इस योजना के तहत पूरे राज्‍य में कृषि कार्य के लिये पर्याप्‍त भूमिगत जल तथा वर्षा के जल का पोखरों में भंडारन किये जाने की योजना है। ताकि राज्‍य के किसानों को उनकी फसलों के लिये पर्याप्‍त मात्रा में पानी उपलब्‍ध हो सके।

यह योजना वित्‍त वर्ष 2024-19 से शुरू होकर कर 2023-24 तक काम करती रहेगी। हर साल इस योजना के लाभार्थी किसान चुनें जाएंगें और चयनित प्रोजेक्‍ट के आधार पर कृषि संजीवनी योजना महाराष्‍ट्र के तहत उन्‍हें पर्याप्‍त सहायता प्रदान की जाएगी।

यदि कोई सूखा ग्रस्त किसान इस योजना के अंतर्गत लाभान्वित होने के लिए आवेदन करना करना चाहता है तो बहुत आसानी से कर सकता है जिसके सम्बन्ध में ऊपर लेख में विस्तार से चर्चा की गयी है।

नानाजी देशमुख कृषि संजीवनी योजना की अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करे?