भारत की 70 फीसदी जनसंख्या आज भी गांवों में ही निवास करती है। जहां पर स्वास्थ्य सेवाओं की हालत बदतर है। गांवों की आबादी अच्छी स्वास्थ्य सेवाओं के अभाव में बड़ी संख्या में अपने हाल मरने को मजबूर है।

इसी बात को ध्यान  रखते हुए अब केंद्र सरकार ने आयुष्मान सहकार योजना का शुभारंभ किया है। इससे ग्रामीण इलाकों में स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार की उम्मीद जताई जा रही है।

आयुष्मान सहकार योजना कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय की पहल है। इस योजना का शुभारंभ 19 अक्टूबर, 2024 को कृषि राज्य मंत्री परसोत्तम रूपाला ने किया।

इस योजना को ग्रामीण भारत में स्वास्थ्य सेवा पहुंचाने के तरीके में क्रांतिकारी बदलाव लाने वाली करार दिया। ताकि गॉव के लोगो को बेहतर इलाज मिल सके.

आयुष्मान योजना सहकार पर आधारित है। ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार के लिए केंद्र सरकार हेल्थ केयर इंफ्रास्ट्र्क्चर बनाने में सहकारी समितियों को शामिल करेगी। इन समितियों के काम में सेवाओं की देखभाल का जिम्मा भी शामिल होगा।

इस योजना के तहत राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम ग्रामीण इलाकों में अस्पताल और मेडिकल काॅलेज खोलने के लिए सहकारी समितियों को दस हजार करोड़ का कर्ज मुहैया कराएगा।

अगर आप इस योजना का लाभ लेना चाहते है तो https://www.ncdc.in/ वेबसाइट पर जाकर अपना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।

          आवेदन प्रक्रिया

आयुष्मान सरकारी योजना के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए नीचे लिंक पर क्लिक करें?